जेएनयू पहुँचे अक्षय कुमार एबीवीपी के समर्थन में , पोस्ट वायरल और फिर सच ……..

 

सोशल मीडिया पर किसी फोटो और वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर उसे वायरल किया जाता रहता है। वहीं किसी पुरानी फोटो और वीडियो को नया बताकर भी उसे शेयर किया जाता है। कई बार सच्चाई कोसों दूर होती है, लेकिन सोशल मीडिया पर लोग बिना सच जाने उसे वायरल करते रहते हैं। जेएनयू मामले पर जारी बवाल के बीच सोशल मीडिया पर बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार की एक तस्वीर वायरल हो रही है।

इस तस्वीर में वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद यानी एबीवीपी का झंडा पकड़े हुए नजर आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर इस फोटो को शेयर करते हुए यूजर्स की ओर से दावा किया जा रहा है कि एक्टर अक्षय कुमार जेएनयू में आरएसएस की छात्र ईकाई एबीवीपी के समर्थन में उतर आए हैं।

एक यूजर ने इस फोटो को पोस्ट करते हुए लिखा, ‘जेएनयू में एबीवीपी के समर्थन में उतरे राष्ट्रवादी अक्षय कुमार… बेशर्म दीपिका तुमने अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारी है.. टुकड़े-टुकड़े गैंग का समर्थन करके तुमने साबित किया है अपनी गद्दारी…. भक्तों से पंगा लेकर कांग्रेस पार्टी बर्बाद हो गई..

अभी-अभी सलमान खान की दबंग 3 फ्लॉप हो चुकी है.. ख़ैर तुम्हारा और तुम्हारे फिल्म का क्या होगा.. ये हम सब तय करेंगे.. लेकिन अफसोस तेरे चलते बेचारे रणवीर का भी कैरियर बर्बाद ना हो जाये। अब इस तस्वीर को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि एक्टर अक्षय कुमार जेएनयू में आरएसएस की छात्र ईकाई एबीवीपी के समर्थन में उतर आए हैं।
राजस्थान पत्रिका की फैक्ट चैक टीम ने इस वायरल मैसेज के पीछे का सच जाना।

जांच
राजस्थान पत्रिका की फैक्ट चैक टीम ने इस वायरल मैसेज के पीछे का सच जाना। इसके लिए हमने इस तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए इसे रिवर्स सर्च इमेज किया तो पता चला कि ये तस्वीर दो साल पुरानी यानी वर्ष 2018 की है।

जिसे अभी दीपिका और रणवीर से जोड़कर शेयर किया जा रहा है। दरअसल हमें कई वेबसाइट्स की लिंक मिले, जिसमें अक्षय कुमार की ये तस्वीर इस्तेमाल की गई थी। खबर के मुताबिक अक्षय कुमार ने ये झंडा वर्ष 2018 में दिल्ली यूनिवर्सिटी वुमन मैराथन के दौरान दिखाया था। इस झंडे को दिखाकर ही उन्होंने वुमन मैराथन को रवाना किया था। दरअसल यहां वो अपनी फिल्म पैडमैन का प्रमोशन करने पहुंचे थे।

हालांकि उस वक्त एबीवीपी का झंडा फहराए जाने को लेकर उन्हें ट्वीटर पर आलोचनाएं भी झेलनी पड़ी थी। वहीं अक्षय कुमार के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर भी यह फोटो मिली, जिसे अक्षय ने फिल्म पैडमैन के प्रमोशन के दौरान पोस्ट किया था। अक्षय कुमार का एक ट्वीट भी है, जो साल 2018 में किया गया था। ट्वीट करते हुए अक्षय ने लिखा था कि उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी वुमन मैराथन का झंडा दिखाकर आगाज किया। यह मैराथन टैक्स फ्री सेनेटरी पैड के लिए आयोजित की गई थी।

सच
बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार की अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद यानी एबीवीपी का झंडा पकड़े हुए नजर आ रही फोटो 2 साल पुरानी है। उन्होंने तब दिल्ली यूनिवर्सिटी वुमन मैराथन में यह झंडा लहराया था। इससे यह साफ हो जाता है कि सोशल मीडिया पर अब शेयर हो रही फोटो गलत दावे के साथ शेयर की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *