26 जनवरी पहले बड़ा हमला करना चाहता था DSP दविंदर सिंह संग पकड़ा गया हिजबुल आतंकी

जम्मू-कश्मीर के निलंबित डीएसपी के दविंदर सिंह के साथ गिरफ्तार किए गए हिजबुल मुजाहिद्दिन के आतंकवादी को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार, डीएसपी (निलंबित) दविंदर सिंह के साथ पकड़ा गया हिजबुल का आंतकी पुलवामा में विस्फोटक पहुंचाने की फिराक में था, जिसके जरिए उसके ग्रुप ने 26 जनवरी को होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह से पहले एक बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की योजना बनाई थी। यह जानकारी पिछले सप्ताह सुरक्षा एजेंसियों द्वारा साझा किए गए इनपुट के आधार पर रक्षा खुफिया एजेंसी (डीआईए) ने दी है।

बता दें कि 11 जनवरी को डीएसपी दविंदर सिंह और अन्य दो के साथ यात्रा के दौरान आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दिन का चीफ नवीद बाबू गिरफ्तार किया गया था। नवीद साउथ एंड सेंट्रल कश्मीर में हिजबुल मुजाहिद्दिन के ऑपरेशन की कमान संभालता था।

इनपुट के मुताबिक, आतंकी नवीद बाबू हिजबुल मुजाहिद्दिन से जुड़े अपने साथियों तक विस्फोटक पहुंचाने वाला था। हिजबुल के ये आतंकी जडूरा में आतंकी हमला करने की फिराक में थे और पुलवामा के पास नीवा-पखेरपोरा सड़क पर आईईडी बिछाने की योजना थी। नवीद बाबू को आतंकियों की भर्ती करने वाला मास्टर बताया जा रहा है और वह आईईडी का एक्सपर्ट है।

बता दें कि पिछले साल सीआरपीएफ के काफिले पर कार बम से हमला किया गया था, जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद भारत ने पाकिस्तान में स्थित आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया था और एयर स्ट्राइक किया था।

दरअसल, आतंकी रियाज़ निकू के बाद बाबू हिजबुल का दूसरा इन-कमांड है। उस पर पिछले साल असैन्य हत्याओं में शामिल होने और पुलिस अधिकारियों और सुरक्षा बलों से हथियार छीनने का भी आरोप है।

एनआईए चार आरोपियों दविंदर सिंह, हिज्बुल मुजाहिद्दीन के कमांडर नवीद मुश्ताक उर्फ नवीद बाबू, उसके साथियों आसिफ और इरफान मीर को ट्रांजिट रिमांड पर जम्मू लाई है। इन सबको गुरुवार को अदालत में पेश किया जाएगा। चारों को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर काजीगुंड के निकट 18 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) जो घाटी में आंतकी बाबू और अन्य आतंकवादी ऑपरेटरों के साथ दविंदर सिंह के संबंधों की जांच कर रही है, ने बुधवार को सिंह के श्रीनगर स्थित आवास पर छापा मारा। उससे बरामद दस्तावेजों की छानबीन हो रही है।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर पुलिसक ने बीते गुरुवार को दविंदर सिंह को राष्ट्रीय राजमार्ग पर मीर बाजार में अन्य तीन के साथ गिरफ्तार किया था। इसके बाद दविंदर सिंह को सोमवार को निलंबित कर दिया गया। उस पर आरोप है कि उसने तीन आतंकवादियों को बादामी बाग छावनी इलाके में सेना की 16वीं कोर के मुख्यालय के पास अपने आवास पर आश्रय दिया था और आतंकियों को भगाने की फिराक में था। देवेंद्र सिंह के साथ ही उन आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *